Patanjali Triphala Churna ke Fayde:त्रिफला चूर्ण

patanjali triphala churn

दोस्तों आयुर्वेद में त्रिफला चूर्ण (Triphala Churna) का बहुत ज्यादा महत्व है ,और यह  काफी समय से इस्तेमाल किया जा रहा है। भारत में लगभग सभी आयुर्वेदिक कंपनियां त्रिफला चूर्ण बनाती हैं और सभी का अलग-अलग प्राइस भी है।

अगर सबसे सस्ते त्रिफला चूर्ण (Triphala Churna) की बात करें तो पतंजलि त्रिफला चूर्ण सबसे सस्ता माना जाता है और सबसे कारगर भी है। पतंजलि त्रिफला चूर्ण दिव्य त्रिफला चूर्ण के नाम से बेचा जाता है जो कि आपको नजदीकी पतंजलि स्टोर या फिर ऑनलाइन स्टोर में आसानी से मिल जाएगा। तो चलिए बात करते हैं कि त्रिफला चूर्ण क्या होता है।  

क्या है त्रिफला चूर्ण? What is Triphala Powder

त्रिफला चूर्ण (Triphala Churna) 3 चीजों को मिलाकर बनाया गया है। इसमें मुख्य रूप से तीन चीजें ही डाली जाती है। हरड़, बेहड़ा  और सुखा हुआ आमला। इन तीनों को एक समान मात्रा में मिलाकर उसे त्रिफला चूर्ण का नाम किया जाता है। 

सभी कंपनियां अपने अपने हिसाब से इनके अनुपात का मिश्रण तैयार करती हैं। अगर पतंजलि त्रिफला चूर्ण की बात करें। इसमें हरड़, बहेड़ा और आंवला लगभग एक समान ही इस्तेमाल किया जाता है। 

अगर आप  बाहर से नहीं इस्तेमाल करना चाहते तो आप घर में भी तैयार कर सकते हैं या फिर बना सकते हैं आप बाजार से इन तीनों फलों का चूर्ण ले आइए जैसे कि हरड़, बेहड़ा और सूखे हुए आंवले का अगर चूर्ण के रूप में नहीं मिलता तो इनके छिलके और गुटली निकालकर सुखा लीजिए। सूखने के बाद इनका चूर्ण बना कर  मिक्स कर लीजिए और यह आपका घर में ही त्रिफला चूर्ण बन जाएगा। 

पतंजलि त्रिफला चूर्ण के फायदे: Patanjali Triphala Churna Benefits

मुख्य रूप से पतंजलि त्रिफला चूर्ण पेट से संबंधित रोगों के लिए इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि कब्ज़, बवासीर गैस, एसिडिटी इत्यादि। इसके अलावा भी इसके और कई फायदे हैं। इसलिए विस्तार में बात करते हैं इसके फायदों के बारे में। 

1. कब्ज दूर करने में फायदे 

आयुर्वेद में कब्ज को कई गंभीर बीमारियों की जड़ माना जाता है। कहा जाता है कि हमारा अच्छा स्वास्थ्य हमारे पेट पर ही निर्भर करता है। अगर आपका पेट सही होगा। पाचन क्रिया सही होगी तो आप स्वस्थ रहेंगे तो आपके पेट में कब्ज नहीं होनी चाहिए। अगर कब्ज़  हो जाए तो कब्ज को दूर करने के लिए पतंजलि त्रिफला चूर्ण का सेवन कर सकते हैं। इसे आप गर्म पानी के साथ रात को सोने से पहले 1 सप्ताह तक लीजिए। आपको बहुत ज्यादा फायदा मिलेगा। 

2. गैस और एसिडिटी की समस्या 

किसी को कब्ज हो जाए तो आगे चलकर गैस होने लगती हैं अगर आपको भी पेट में गैस या उफ्फरा जैसा बन जाता है तो अब त्रिफला चूर्ण का सेवन कर सकते हैं यह  पेट फूलने, पेट में गैस, एसिडिटी की समस्या से आराम दिलाता है  

3. वजन घटाने में फायदेमंद

बहुत से लोग सोचते हैं कि त्रिफला चूर्ण सिर्फ कब्ज़ से राहत दिलाता है लेकिन ऐसा नहीं है। अगर आप मोटापे से परेशान हैं, वजन बढ़ रहा है। वजन कम करना चाहते हैं तो उसमें भी त्रिफला चूर्ण का सेवन किया जा सकता है। यह आपकी पाचन क्रिया को सही करता है।

यदि आपकी पाचन क्रिया सही होगी तो खाना अच्छे से पचेगा और फैट जमा नहीं होगी। तो पाचन क्रिया को दुरुस्त करने के लिए और वजन को नियंत्रित करने के लिए आप त्रिफला का  सेवन कर सकते हैं। 

4. आंखों के लिए फायदेमंद

यह भी बहुत कम लोग जानते हैं कि त्रिफला चूर्ण आपके पेट के साथ-साथ आंखों के लिए भी फायदेमंद माना जाता है। यह आखों की रोशनी बढ़ाता है और आंखों से संबंधित रोगो से भी निजात दिलाता है। आँखों  के लिए इसका इस्तेमाल करना चाहते हैं तो रात को एक गिलास पानी में थोड़ा सा त्रिफला चूर्ण भिगो दें और सुबह उस पानी से अपनी आंखें धोएं। इससे आपको काफी ज्यादा फायदा मिलेगा। 

5. बालों के लिए फायदेमंद 

जैसा कि आपको पता है त्रिफला चूर्ण हरड़, बहेड़ा और आंवला से बना है। यह तीनों ही पेट के साथ-साथ बालों के लिए भी काफी फायदेमंद माने जाते हैं खासकर के आमला। आपके बालों के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है। अगर आपके बाल झड़ रहे हैं असमय सफेद हो रहे हैं तो बालों के झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए आप त्रिफला चूर्ण का सेवन कर सकते हैं। यह बालों का गिरना काफी हद तक कम करता है  

6. पाचन क्रिया अच्छी करता है 

जैसा कि हमने शुरू में बताया कि खराब  पाचन क्रिया कई रोगों का कारण है अगर आपकी पाचन क्रिया  ठीक नहीं है तो उसे ठीक करने के लिए त्रिफला  चूर्ण का सेवन किया जा सकता है। यह पाचन क्रिया दुरुस्त करता है। और भोजन  को अच्छे से पचाता  है। अगर आपको भूख कम लगती है तो भूख को बढ़ाने में भी इसका बहुत अच्छा फायदा मिल सकता है। 

7. मलेरिया में फायदेमंद 

गर्मियां और मानसून में मौसम में मलेरिया का प्रकोप काफी बढ़ जाता है। मच्छरों के फैलने वाली बीमारी बच्चों को बहुत जल्दी हो जाती है तो त्रिफला चूर्ण मलेरिया के बुखार में भी आराम दिलाता है। इसे किसी भी उम्र के लोग लोगों को दे सकते हैं जिससे उन्हें फायदा मिल सकता है। 

त्रिफला चूर्ण का सेवन कैसे करें: How to use Triphala Churna

अगर आप कब्ज़ से परेशान हैं और पेट को दुरुस्त करने के लिए त्रिफला चूर्ण का सेवन करना चाहते हैं तो रात को सोने से पहले 5 से 6 ग्राम चूर्ण गर्म पानी के साथ लेने की सलाह दी जाती है। 

अगर आप किसी और वजह से इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सभी के लिए थोड़ा बहुत बदलाव कर सकते हैं। वैसे यह सबसे अच्छा और कारगर तरीका है इसे लेने का 

पतंजलि त्रिफला चूर्ण की कीमत: Triphala Churna Price

पतंजलि त्रिफला चूर्ण की कीमत ₹23 रखी गई है। 23 रुपए में आपको 100 ग्राम की पैकिंग आसानी से मिल जाती है।

यह भी पढ़े

Share

Be the first to comment on "Patanjali Triphala Churna ke Fayde:त्रिफला चूर्ण"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*