Chandrapabha Vati : फायदे , नुकसान और उपयोग

chandrapabha vati ke fayde

दोस्तों आयुर्वेद ने हमें कई तरह की जड़ी बूटी और योग प्रदान किए हैं। इन सभी में से एक हैं चंद्रप्रभा वटी (Chandraprabha Vati). चंद्रप्रभा वटी एक बहुत प्रसिद्ध और उपयोगी वटी के नाम से जानी जाती है। 

चंद्रप्रभा का नाम दो शब्दों से मिलकर बना है। चंद्र यानी चंद्रमा और प्रभा यानी उसकी चमक चंद्रप्रभा वटी के सेवन से शरीर आंतरिक और बाहरी दोनों रूप से स्वस्थ बनता है। यह शरीर में आई कई तरह की बीमारियों को दूर करता है। 

यह औषधि कई तरह के रोगों से भी बचाती है। इसे स्त्री, पुरुष या फिर किसी भी आयु में इस्तेमाल किया जा सकता है। चंद्रप्रभा वटी सभी आयुर्वेदिक कंपनियां बनाती है जैसे कि पतंजलि, बैद्यनाथ इत्यादि। चंद्रप्रभा वटी के उपयोग से शरीर की कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है जैसे कि गुर्दे की पथरी, मूत्राशय, बार बार पेशाब आना, पेशाब में रुकावट ,महिलाओं की समस्या, स्वप्नदोष इत्यादि 

चंद्रप्रभा वटी के तत्व।Chandraprabh Vati Ingredients 

चंद्रप्रभा वटी को निम्नलिखित तत्व मिलाकर बनाया जाता है। 

शुद्ध गुग्गुलू96 ग्राम
शुद्ध शिलाजीत96 ग्राम
मिश्री48 ग्राम
लोह भस्म24 ग्राम
काली निशोथ12 ग्राम
दन्तीमूल12 ग्राम
बंसलोचन या तबाशीर12 ग्राम
तेजपत्र12 ग्राम
दालचीनी12 ग्राम
छोटी इलायची के बीज12 ग्राम
कपूर3 ग्राम
वच3 ग्राम
नागरमोथा – मुस्तक3 ग्राम
चिरायता3 ग्राम
गिलोय – गुडूची3 ग्राम
देवदारु3 ग्राम
अतिविषा – अतीस3 ग्राम
दारुहल्दी3 ग्राम
हल्दी3 ग्राम
पीपलामूल3 ग्राम
चित्रक3 ग्राम
धनिया3 ग्राम
हरड़3 ग्राम
बहेड़ा3 ग्राम
आमला – आंवला3 ग्राम
चव्य3 ग्राम
विडंग3 ग्राम
गजपीपली3 ग्राम
काली मिर्च3 ग्राम
पिप्पली3 ग्राम
शुंठी3 ग्राम
स्वर्णमाशिक भस्म3 ग्राम
स्वर्जिका क्षार (सज्जी क्षार)3 ग्राम
यवक्षार3 ग्राम
सैंधव लवण3 ग्राम
सौवर्चल लवण3 ग्राम
विड लवण3 ग्राम
चंद्रप्रभा वटी खरीदे 

चंद्रप्रभा वटी के फायदे। 
Chandraprabh Vati Benefits in Hindi

चंद्रप्रभा वटी खाने के बहुत ज्यादा फायदे हैं जो कि निम्नलिखित हैं। 

1.यूरिक एसिड 

यदि आपका यूरिक एसिड बढ़ा हुआ है या फिर यूरिक एसिड की समस्या है तो उसे ठीक करने में  यह बहुत ज्यादा लाभदायक है। यूरिक एसिड स्थिर कर के  किडनी को स्वस्थ रखता है और किडनी के कामकाज को बढ़ावा देता है? 

2.जोड़ों में दर्द 

चंद्रप्रभा वटी के सेवन से घुटनों या जोड़ों के दर्द के, पैरों के सूजन से भी छुटकारा पाया जा सकता है। इसमें कई ऐसे तत्व पाए गए हैं जो कि दर्द से छुटकारा देते है  

3.प्रजनन क्षमता 

अगर पुरुष या महिला कोई किसी की भी प्रजनन क्षमता कम हो गई है तो क्षमता बढ़ाने में भी फायदा देता है। चंद्रप्रभा वटी एक गर्भाशय टॉनिक भी मानी जाती है। इसमें कई ऐसे तत्व हैं जो कि गर्भाशय को रोकने के लिए अत्यधिक लाभदायक माने जाते हैं। 

4.शरीर में स्फूर्ति लाता

fit girls

चंद्रप्रभा वटी के नियमित सेवन से शरीर स्वस्थ रहता है और शक्तिशाली बनता है। अगर आप थके थके रहते हैं, थकान ज्यादा महसूस करते हैं तो चंद्रप्रभा वटी एक टॉनिक के रूप में इस्तेमाल करनी चाहिए। 

5.तनाव कम करता है  

अगर आप काम के बोझ की वजह से तनाव में रहते हैं या फिर किसी और तनाव में रहते हैं तो तनाव को दूर करने के लिए भी चंद्रप्रभा वटी काफी ज्यादा फायदा देती है। 

6.वीर्य में वृद्धि करता है। 

जैसा कि हमने शुरू में बताया यह पुरुष और महिला दोनों के लिए फायदेमंद है। जिन पुरुषों में वीर्य की कमी है और जिसकी वजह से बच्चा पैदा करने में तकलीफ हो रही है तो उसमें भी एक फायदा देता है। यह वीर्य बनाता है और वीर्य को गाढ़ा करने में मदद करता है। 

7.उच्च रक्तचाप 

चंद्रप्रभा वटी में पाए जाने वाली कई औषधीया उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करते हैं। 

8.नपुंसकता और स्वप्नदोष

sperm count

कुछ पुरुषो  को नपुंसकता या फिर स्वपनदोष की समस्या घेर लेती है । यदि आपको भी ऐसी कोई समस्या है तो आप चंद्रप्रभा वटी का सेवन कर सकते हैं। यह आपकी स्वप्नदोष की समस्या को दूर करने में मदद करती है। 

9.किडनी संबंधी रोग 

किडनी के खराब होने में मूत्र की उत्पत्ति बहुत कम होती है जो शरीर को अनेक रोग उत्पन्न करता है एवं मूत्राशय में विकृत होने से मूत्र आने में जलन, पेट में जलन, मूत्र का रंग लाल होना या अधिक दुर्गंध होना ऐसी समस्या खड़ी हो जाती है तो इन सभी समस्याओं से निजात पाने के लिए आप चंद्रप्रभा वटी का सेवन कर सकते हैं.यह बड़े हुए यूरिक एसिड को कम करता है और आपको फायदा देता है। 

चंद्रप्रभा वटी का सेवन कैसे करें|
Chandraprabh Vati Dosage

चंद्रप्रभा वटी की दो-दो गोलियां सुबह और शाम सामान्य पानी या फिर दूध के साथ लेने की सलाह दी जाती है। 

चंद्रप्रभा वटी खरीदे 

कमजोरी आदि होने पर इसे दूध के साथ ही लिया जाना चाहिए। 

चंद्रप्रभा वटी के साइड इफेक्ट। 
Chandraprabh Vati Side Effects

वैसे तो चंद्रप्रभा वटी पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक औषधि है। इसका कोई साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिलता। अगर आप ओवरडोज करते हैं तो कुछ साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं जैसे के 

  • पेशाब में जलन
  • सांस लेने में दिक्कत 
  • डायरिया
  • मतली

यह भी पढ़े :

Share

Be the first to comment on "Chandrapabha Vati : फायदे , नुकसान और उपयोग"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*