Safed Musli :फायदे, नुक्सान और उपयोग

नीचे हम सफेद मूसली खाने की विधि के बारे में आपको बता रहे हैं। इससे आप आसानी से समझ सकेंगें कि सफ़ेद मूसली का उपयोग कैसे कर सकते हैं ? जानिए क्या है सफ़ेद मूसली खाने का तरीका।
बच्चों को एक ग्राम तक मूसली दे सकते हैं, लेकिन पहले बार सेवन करने के बाद बच्चे को पेट संबंधी या कोई और स्वास्थ्य संबंधी परेशानी हो, तो इसे न दें।
13 से 19 वर्ष के किशोर दो ग्राम तक सफ़ेद मूसली का सेवन कर सकते हैं।
60 वर्ष तक के लोग 6 ग्राम तक मूसली का सेवन कर सकते हैं।

वैसे तो गर्भवती महिलाएं या स्तनपान कराने वाली मां दो ग्राम तक मूसली खा सकती है, लेकिन इस बारे में एक बार अपने डॉक्टर से सलाह ज़रूर लें।

आप सफ़ेद मूसली का सेवन चूर्ण, कैप्सूल और सिरप के रूप में कर सकते हैं। इसका सेवन करने के बाद अगर आपको स्वास्थ्य संबंधी कोई परेशानी महसूस हो, तो इसका सेवन बंद कर दें और डॉक्टर से एक बार ज़रूर पूछे लें।

हालांकि, लोगों के मन में इसे लेकर कई सवाल उठते हैं, जिनके जवाब हम नीचे आपके साथ साझा कर रहे हैं।

ये भी पढ़े :

गोखरू के फायदे और उपयोग

शिलाजीत के फायदे

शतावरी के फायदे

मोरिंगा क्या है, फायदे और नुकसान

गिलोय क्या है , फायदे और नुक्सान

Be the first to comment on "Safed Musli :फायदे, नुक्सान और उपयोग"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*