Lactifiber : कब्ज़ का अचूक उपाए

lactifiber benefits

दोस्तों अगर कब्ज (Constipation) हो जाए तो ज्यादातर लोग घरेलू नुसखे ही अपनाते हैं जैसे कि कोई चूर्ण खा लिया या फिर कोई दादी,नानी का नुस्खा अपना लिया, लेकिन आजकल मॉडर्न  ख्यालात के बच्चे घरेलू नुस्खों से दूर रहते हैं। तो ऐसे लोगो के लिए आज हम 1 सप्लीमेंट की बात करेंगे जो की कब्ज के लिए रामबाण मानी जाती है। 

इस चीज का नाम है लैक्टिफाइबर (Lactifiber) .लैक्टिफाइबर (Lactifiber) एक तरह का फाइबर सप्लीमेंट है जो कि सनफार्मा द्वारा बनाया जाता है। यह आपको आपके नजदीकी मेडिकल स्टोर पर आसानी से मिल जाएगा। 

अगर आप कब्ज की वजह से बहुत परेशान है तो लैक्टिफाइबर (Lactifiber) इस्तेमाल कर सकते हैं। यह बहुत ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। 

लैक्टिफाइबर की कंपोजीशन : Lactifiber Composition

लैक्टिफाइबर में मुख्य तौर पर दो चीजे इस्तेमाल की जाती है। 

लैक्टिटोल मोनोहाइड्रेट एक तरह का केमिकल है जो कि गाय के दूध में पाया जाता है। इसे गाय के दूध से निकालकर केमिकल के रूप में बनाया जाता है और यही इसमें इस्तेमाल किया गया है। लेक्टिफिबर में ज्यादातर लैक्टिटोल मोनोहाइड्रेट (Lactitol Monohydrate) ही इस्तेमाल किया गया  है जो कि आपको कब्ज से निजात दिलाता है। 

दूसरी जो चीज है इसबगोल। इसबगोल भी पुराने समय से इस्तेमाल किया जा रहा है। अगर आपको कब्ज हो जाए तो इसे इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर अगर आपको दस्त लग जाए तब भी इसबगोल का सेवन किया जा सकता है। 

लैक्टिफाइबर के फायदे: Lactifiber Benefits in Hindi

  • लैक्टिफाइबर मुख्य तौर पर कब्ज को दूर करने के लिए बनाया जाता है। अगर आपको कब्ज की शिकायत है तो इसे इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  • ज्यादा कब्ज होने से पाइल्स (बवासीर) होने लगती है तो अगर आपको बवासीर की शिकायत भी है और पेट अच्छे से साफ नहीं होता तब भी आप लैक्टिफाइबर का इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  • आजकल कुछ लोगों को आईबीएस (IBS) की समस्या हो जाती है तो आईबीएस की समस्या में भी इसका सेवन किया जा सकता है। 
  • अगर आप कीटो डाइट (Keto Diet) ले रहे हैं और वजन कम करना चाहते हैं तो वजन कम करने के लिए भी लैक्टिफाइबर का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह भी भोजन में फाइबर की कमी को पूरा करता है और वजन कम करने में मदद करता है। 

लैक्टिफाइबर कैसे इस्तेमाल करें? Lactifiber Dosage

लैक्टिफाइबर की डिब्बी में एक 15 ग्राम का चम्मच रहता है। वही 15 ग्राम का चम्मच आप रात को सोने से पहले पानी में घोलकर ले लें। अगर आपको ज्यादा कब्ज है तो आप दिन में दो बार भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे कोई भी ले सकता है चाहे बच्चे हो चाहे बड़े और चाहे बुजुर्ग  

लैक्टिफाइबर की कीमत | Lactifiber Price in India

लैक्टिफाइबर की 180 ग्राम की डिब्बी ₹334 में मिलती है। 

लैक्टिफाइबर का स्वाद कैसा है? Lactifiber Taste

लैक्टिफाइबर पीने में भी स्वादिष्ट है। यह ऑरेंज फ्लेवर में उपलब्ध है तो अगर आपके बच्चे को कब्ज हो जाए तो उसे भी आप आसानी से दे सकते हैं।


Share

Be the first to comment on "Lactifiber : कब्ज़ का अचूक उपाए"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*