इसबगोल के फायदे और नुक्सान: Isabgol Benefits

isabgole ke fayde aur nuksan

अगर पेट खराब हो जाए तो नानी याद आ जाती है, और पेट ठीक करने के लिए हम जी जान लगा देते है कभी दवाई ले ली, कभी कुछ घरेलु उपाए कर लिए इत्यादि!  लेकिन कई बार हमारे घरों में ही ऐसी चीजें उपलब्ध होती है जिनसे हमारा पेट ठीक हो जाता है। 

हम आपको आज एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे हैं,अगर आप उसका सेवन करेंगे तो काफी ज्यादा फायदा आपको मिल सकता है।चाहे बात कब्ज की हो या दस्त की दोनों में यह फ़िएदेमन्द है।इस लेख में बात करेंगे इसबगोल (Isabgol)  की. इसबगोल को अंग्रेजी में Psyllium Husk कहते है और यह भारत में काफी समय से इस्तेमाल किया जा रहा है। 

अगर आपके पेट में कब्ज हो गई हो, तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। तो पहले बात कर लेते हैं कि क्या है आखिर इसबगोल (Isabgol) क्या है 

इसबगोल  क्या है : What is Isabgol (Psyllium Husk)

इसबगोल (Isabgol) एक तरह के पौधे से निकाली हुई हस्क है। इसके पौधे का नाम है प्लांटागो ओवाटा (Plantago Ovata)। 

इसके ऊपर छोटे-छोटे फूल लगते हैं। देखने में यह गेहूं के फूल जैसे लगते हैं और सूखने के बाद इनमें से हस्क निकाली जाती है। इन पौधों को ऐसे ही गीली मिट्टी से उखाड़ लिया जाता है। बाद में इन फूलों को सूखने दिया जाता है और पीसने के बाद साफ किया जाता है .

जिसके बाद सफेद रंग का भूसा निकलता है और उस भूसे को इसबगोल का नाम दिया जाता है। यह पौधा मिस्त्र और इरान में पाया जाता था लेकिन अब भारत में भी पाया जाता है। यह काफी ज्यादा सस्ता भी है। तकरीबन ₹5 का पैकेट आपको मिल जाएगा और आपके काफी दिन निकल जाएंगे। 

ईसबगोल के पौष्टिक तत्व | Isabgol Nutrition Facts

ईसबगोल (Isabgol) की भूसी में काफी ज्यादा पौष्टिक तत्व भी पाए जाते हैं। यह एक तरह का काफी अच्छा फाइबर भी है। कई लोगों को फाइबर की कमी से ही। कब्ज हो जाती है तो अगर कब फाइबर की कमी से हो तो आप इसबगोल का सेवन कर सकते हैं

पोषण तत्व 

1 tbsp (16 ग्राम ग्राम)

  • कैलोरी 34 
  • वसा (Fat) : 0.7 ग्राम
  • संतृप्त वसा ( Saturated Fat): 0.1 ग्राम
  • कोलेस्ट्रॉल ( Cholesterol) : 0mg मिलीग्राम
  • सोडियम ( Sodium) : 0.3 मिलीग्राम मिलीग्राम
  • पोटेशियम ( Potassium) : 189mg मिलीग्राम
  • कुल कार्बोहाइड्रेट ( Carbohydrates) : 10 ग्राम
  • आहार फाइबर (Fiber) : 6.9 ग्राम
  • शक्कर (Sugar) : 0.1 ग्राम
  • प्रोटीन ( Protein) 2.5 ग्राम

इसबगोल  के फायदे। Isablog Benefits in Hindi

1.कब्ज में फायदेमंद | Constipation

जैसा कि मैं हमने शुरुआत में बताया कि कब्ज के लिए काफी ज्यादा फ़ायदेमंद है तो इस भूसे  का सेवन करना कब्ज में रामबाण इलाज माना जाता है। अगर आपको काफी समय से कब्ज हो तो आगे चलकर यह पाइल्स का रूप धारण कर लेती है। कब्ज में जब आप जोर लगाते हैं तो आपकी मांसपेशियों पर जोर पड़ता है और पाइल्स भी हो सकती है. 

इसलिए पेट को सही रखने के लिए और अच्छे से सफाई करने के लिए इसबगोल का सेवन किया जा सकता है यह पेट की आंतों को साफ करता है और खाना पचने में भी मदद करता है। 

stomach pain girl

इसे आप रात को दूध में भिगोकर या फिर पानी में भिगोकर खा सकते हैं और सुबह आपका पेट अच्छे से साफ होगा। 

2.दस्त में फ़ायदेमंद| Good in diarrhea  

कुछ लोग सोचेंगे कि अगर यह कब्ज में फ़ायदेमंद है तो यह दस्त में कैसे फ़ायदेमंद हो सकता है तो दोस्तों दस्त लगने में भी यह काफी ज्यादा फ़ायदेमंद हो सकती है। 

अगर इसबगोल(Isabgol) का पानी की जगह दही के साथ सेवन किया जाए तो यह दस्त को रोकने में काफी ज्यादा फायदेमंद माना  जाता है। 

दही में काफी ज्यादा प्रोबायोटिक पाए जाते हैं जो कि मल को सख्त करने में फायदा देते हैं और इसबगोल में फाइबर पाया जाता है जो कि डायरिया और दस्त में आराम देता है

3.बवासीर में फ़ायदेमंद | Good in Piles

दोस्तों अगर काफी समय तक कब्ज रह जाए तो यह बवासीर का रूप धारण कर लेती है तो अगर आपको पहले से ही बवासीर है और आपका  पेट अच्छे से साफ नहीं होता तो आपको इसबगोल का सेवन करना चाहिए। यह आपके पेट साफ करने में औरर बवासीर से राहत देने में आपको काफी मदद करता है। 

ज्यादा पानी के साथ इसबगोल देने पर यह माल को थोड़ा नरम कर देता है पर मल त्याग में आपको आसानी होती है। 

4.वजन घटाने में फ़ायदेमंद| Helps in Weight loss

अगर आप जिम जा रहे हैं, वर्क आउट कर रहे हैं। और वजन कम करना चाहते हैं तब भी फाइबर काफी ज्यादा फायदा करता है। आपका वजन कम करने में तब भी इसबगोल आपका फायदा दे सकता है क्योंकि फाइबर युक्त आहार लेने पर पेट  काफी समय तक भरा रहता है और अतिरिक्त भोजन खाने की इच्छा नहीं होती।

इसके साथ-साथ यह केलोस्ट्रोल को नियंत्रित करने में भी काफी ज्यादा फायदा करता है। इसबगोल अतिरिक्त कैल्ट्रॉल को अवशोषित करता है और मल त्याग के दौरान शरीर से बाहर निकल जाते हैं।

5.डायबिटीज़ को कंट्रोल करता है। Sugar Control

इसबगोल एक तरह का प्राकृतिक जिलेटिन पदार्थ है। जब आप इसे पानी में भिगोते हैं तो यह एक जेल का रूप धारण कर लेता है तो यह आपके शरीर में ग्लूकोज को तोड़ने और अवशोषित करने में मदद करता है और ग्लूकोज के सेवन को कम करता है तो इसलिए यह टाइप 2 मधुमेह को नियंत्रित करने में भी मदद करता है। 

ईसबगोल खाने के नुकसान। Isabgol Side Effects In Hindi

दोस्तों जहां किसी चीज के फायदे होते हैं, वहीं अतिरिक्त चीज खाने के नुकसान भी हो सकते हैं। वैसे ही इसबगोल हद से ज्यादा खाने के नुकसान हो सकते हैं और कुछ लोगों को अगर सूट ना करें तो उन्हें भी कुछ नुकसान झेलने पड़ सकते हैं। 

दवाओं के असर को कम करता है। 

जो लोग रेगुलर इसबगोल खाते हैं और साथ में कोई दवाई भी चल रही है तो वह दवा के असर को कम कर सकती है क्योंकि इसबगोल दवाओं की सिर्फ ऊपरी सतह को अवशोषित करने देता है जिससे वह रक्त में मिल नहीं पाती। इसी वजह से दवा का पूरा असर नहीं हो पाता। अगर आप एस्प्रिन या फिर कोई और दवा खा रहे हैं तो आपको उसका असर देखने को नहीं मिलेगा। 

पेट में मरोड़ उठना

इसबगोल में फाइबर काफी ज्यादा मात्रा में पाया जाता है तो इसलिए अगर आपको कब्ज की शिकायत है। तभी आपको इसका सेवन करना चाहिए। अगर आपका पेट बिल्कुल सही है तो इस अवस्था में आप ईसबगोल का सेवन ना करें। अगर आप इसका सेवन करते हैं तो आपके पेट में मरोड़ वगैरह उठ सकते हैं, और दस्त भी लग सकते हैं। 

इसबगोल का सेवन कब और कैसे करें? Isabgol Dosage and Timing

इसबगोल (Isabgol) का सेवन करना बहुत ही आसान है। अगर आप कब्ज के लिए ईसबगोल का सेवन करना चाहते हैं तो आप रात को सोने से पहले आधा गिलास पानी में 5 से 10 ग्राम इसबगोल भिगोकर पी सकते हैं। 

इसबगोल कौन सी चीज के साथ खाएं: How to eat Isabgol

इसबगोल आप पानी में भिगोकर खा सकते हैं। दूध के साथ खा सकते हैं और दही में भिगोकर भी खा सकते हैं और कुछ लोग तो इसे त्रिफला पाउडर के साथ खाना भी पसंद करते हैं।

यह भी पढ़े

Share

Be the first to comment on "इसबगोल के फायदे और नुक्सान: Isabgol Benefits"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*