Press ESC to close

Vitamin D की कमी के लक्षण, नकसान एवं बढ़ाने के उपचार

हमें शारीरिक  क्रियाओं के लिए कई तरह के पोषक तत्वों की जरूरत पड़ती है जैसे कि प्रोटीन, विटामिन मिनरल, कार्बोहायड्रेट इत्यादि  सभी विटामिन में से एक विटामिन बहुत जरूरी है जिसके बारे में लोग कम जानते हैं। वह है विटामिन डी. विटामिन D जिसे सनशाइन विटामिन भी कहते हैं, यह विटामिन बहुत जरूरी हो गया है क्योंकि आजकल विटामिन डी की कमी बहुत लोगों में पाई गई है। विटामिन डी हमारी हड्डियों, दांत, मांसपेशियों के लिए बहुत जरूरी होता है। 

इतनी सारी खूबियों के बाद भी आजकल लोगों में विटामिन डी की कमी देखी गई है। आजकल लोग 70 से 90% विटामिन डी की कमी से जूझ रहे हैं। इसके पीछे कई कारण है जो हम आगे चल कर बात करेंगे। लेकिन पहले हम लोग बात कर लेते हैं कि अगर विटामिन डी की कमी हो तो कौन-कौन से लक्षण देखने को मिलते हैं। 

विटामिन डी की कमी के लक्षण | Vitamin D ki Kami Ke Lakshan

शरीर में विटामिन डी की कमी होने से आपको कई तरह के लक्षण दिखाई देंगे जैसे कि 

हड्डियों और पीठ दर्द 

जैसा मैंने शुरू में बताया कि विटामिन डी आपकी हड्डियों और मांसपेशियों के लिए बहुत ज्यादा जरूरी है। अगर  विटामिन डी की कमी हो जाये तो कैल्शियम अच्छे से अब्ज़ॉर्बजवाब नहीं होता और हमारी हड्डियां दर्द होने लगती हैं। यह दांतो के लिए भी बहुत ज्यादा जरूरी हो जाता है तो विटामिन डी की कमी से कैल्शियम अच्छे से अब्ज़ॉर्ब नहीं होता।जिस वजह से हड्डियां और पीठ दर्द होती है

 थकान महसूस होना

पूरे दिन थकावट महसूस करना, नींद पूरी होने के बाद भी आपको थकान फील होना इसके पीछे भी विटामिन डी की कमी हो सकती है। 

बाल झड़ना 

कुछ मामलों में विटामिन डी की कमी के कारण बाल भी झड़ने लगते हैं। यह एक बहुत जरूरी न्यूट्रिएंट  है जो कि हमारे हेयर फॉलिकल को बढ़ाता है। अगर विटामिन डी की कमी हो जाए तो सही से बाल झड़ने लगते हैं और गंजेपन का शिकार हो सकते हैं 

मूड में बदलाव 

विटामिन डी की कमी होने से आप डिप्रेशन या फिर अवसाद की ओर भी जा सकते हैं। आपने देखा होगा कि जो लोग ज्यादा अंधेरे में रहते हैं, वह ज्यादा डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं। अगर आप धूप में रहेंगे तो आप ज्यादा खुश रहेंगे। 

घाव जल्दी नहीं भरते 

अगर आपको कोई घाव हो जाए तो विटामिन डी की कमी के कारण घाव जल्दी नहीं भरेगा। 

मांसपेशियों में दर्द 

कई बार आपने देखा होगा कि आपकी मांसपेशियों में हमेशा दर्द रहता है। पैरों और टांगों में दर्द होता रहता है तो यह भी विटामिन डी की कमी से ही हो सकता है। 

इम्यूनिटी कमजोर होना 

रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम हो जाती है। अगर एक भी विटामिन बॉडी में कम हो जाए तो आप बहुत जल्दी बीमार होने लगते हैं और भी कई समस्याएं होने लगती हैं। 

विटामिन डी की कमी के कारण। Vitamin D ki kami Ke Karan

विटामिन डी की कमी के बहुत सारे कारण हो सकते हैं जैसे कि

  • धूप में ना निकलना, ऐसे कई लोग मैंने देखे हैं जो कि कभी भी धूप में नहीं निकलते या फिर रात की शिफ्ट में जॉब करते हैं और दिन को आ कर सो जाते हैं। 
  • अधिक समय तक एक ही कमरे में रहना। अगर आप एक ही कमरे में रहते हैं बाहर बिल्कुल नहीं निकल रहे तब भी विटामिन डी की कमी हो सकती है। 
  • दूध, दही, मक्खन इत्यादि का सेवन ना करना। 
  • अगर आप गर्भवती हो तब भी विटामिन डी की कमी हो सकती है बॉडी में 
  • फास्ट फूड और कोल्ड ड्रिंक का अधिक सेवन करने से भी विटामिन डी की कमी हो जाती है।

विटामिन डी कहां से पूरा करें? Source fof Vitamin D

विटामिन डी नेचुरल तरीके से पूरा कर सकते हैं जो कि निम्नलिखित स्त्रोत है। 

धूप 

आजकल लोग धूप में जाना पसंद नहीं करते। ज्यादातर वह इसी के AC में  रहते हैं और खेलें भी इंडोर ही खेलते हैं जिससे कि उन्हें धूप नहीं लगती और विटामिन डी की कमी हो जाती है 

अंडा 

अगर अपनी डाइट में अंडा खाएंगे, खासकर के अंडे का पीला भाग तो यह भी विटामिन डी का अच्छा स्त्रोत है। अंडा आपकी विटामिन डी की कमी को पूरा कर सकता है। 

सालमन फिश 

अगर आप नॉनवेज खा लेते हैं तो अपनी डाइट में मछली को ऐड करें। फिश  में भी विटामिन डी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि विटामिन डी की कमी को पूरा कर सकता है। 

डेयरी प्रोडक्ट

डेयरी में बहुत सारी चीजें आती हैं जैसे कि दूध,पनीर तो इन चीजों में भी विटामिन डी भरपूर मात्रा में होता है और कैल्शियम भी पाया जाता है तो इसे भी अपनी डाइट में ऐड करें। 

सप्लीमेंट 

अगर आप डाइट में यह चीजें नहीं ले पा रहे तो आप विटामिन डी का सप्लीमेंट भी इस्तेमाल कर सकते हैं जो कि आपको ऑनलाइन या फिर बाजार में आसानी से मिल जाएगा।