WEIGHT LOSS vs FAT LOSS : क्‍या है बेहतर

Weight Loss Vs fat Loss

WEIGHT LOSS vs FAT LOSS | फिट रहना या वजन घटाना दोनों में क्‍या है बेहतर

सेहत और लुक्स को लेकर जागरूकता दिनों-दिन बढ़ रही है। ऐसे में वजन बढ़ने की समस्या को लेकर चिंतित होना लाजिमी सी बात है। यहां तक कि वजन के चलते आप एक दिन भी अपनी मॉर्निंग वॉक ( Walk) या जिम ( Gym) क्लॉस को मिस नहीं करना चाहते। लेकिन क्या सिर्फ वजन घटाना ही आपके लिए काफी है?

बढ़ते वजन को कम करने में जुटा हर व्‍यक्ति रोज एक बार सोचता होगा कि अतिरिक्‍त वजन को कैसे कम किया जाये। हो सकता है कि विभिन्‍न उपाय अपनाकर आप वजन कम करने की इस लड़ाई को जीत भी गये, लेकिन क्‍या आप अभी भी चुस्‍त-दुरुस्‍त है? 

वजन घटाने के साथ फिटनेस भी जरूरी

क्या आप जानते हैं कि वजन घटाने ( Weight Loss) के साथ-साथ फिट रहना भी बेहद जरूरी है। सिर्फ स्लिम होने का मतलब फिट होना नहीं होता। फिटनेस का मतलब है पूरी तरह से अच्छी सेहत और ये एक्‍सरसाइज के साथ-साथ अच्छे खानपान से ही हासिल की जा सकती है।

फिटनेस के लिए हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल जरूरी

ये जानना बेहद जरूरी है कि फिटनेस का मतलब वजन घटाना होता है, लेकिन सिर्फ वजन घटाने का मतलब फिट होना नहीं होता। अब अस्वस्थ तरीके से भी वजन घटा सकते हैं। फिटनेस के लिये अच्छा खाना, अच्छा आराम, अच्छी एक्सरसाइज यह सभी चीजें बेहद जरूरी होती है।

पाचन तंत्र को दुरूस्‍त रखें

वजन घटाने के चक्कर में अक्सर आपका पाचन तंत्र बिगड़ जाता है। डाइट में हुए परिवर्तन से बिगड़े पाचन तंत्र को एक्सरसाइज के जरिये ठीक किया जा सकता है। इसके लिये ठीक से सांस लेना, चलना और दूसरी शारीरिक गतिविधियों की मदद भी ली जा सकती है।

संतुलित आहार का सेवन

अगर आप फिट रहना चाहते हैं तो अपने डायट चार्ट में ताजे फल और हरी सब्जियों को शामिल करना बहुत आवश्यक है। फलों में भरपूर मात्रा में पौष्टिक तत्व होते हैं जो शरीर के लिए जरूरी हैं, रंगीन और हरी सब्जियों को खाने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। खाना-पान का संतुलन होना बहुत आवश्यक है। संतुलन से मतलब यह नहीं है कि आपने सप्ताह में दो दिन अधिक खाया और दो दिन डायटिंग कर लिया करें। खानपान का मतलब है कि एक निश्चित अतंराल में हिसाब से खाना अधिक न खाना। सोने से 2 घंटे पहले रात में भोजन कर लेना चाहिए, जिससे खाना अच्छे से पच जाए। भोजन का पाचन पूर्ण रूप से हो, इसके लिए सलाद का सेवन जरूरी होता है।

मानसिक मजबूती भी होती है जरूरी

अगर आप स्वयं को भावनात्मक रूप से कमजोर महसूस कर रहे है, तो आप स्वयं को फिट नहीं कह सकते। तनाव मुक्त रहना भी फिटनेस के लिए बेहद जरूरी है। शारीरिक फिटनेस का मतलब सिर्फ शरीर की मजबूती नहीं बल्कि मानसिक मजबूती से भी है। सभी शारीरिक गतिविधियां आपको मानसिक तौर पर भी मजबूत बनाती है। वजन घटाने की जल्दी आपको मानसिक दबाव का शिकार बना सकती है। एक्सरसाइज करने से आपके मसल्स ( Muscles) में सुधार होगा और आपकी पूरी पर्सनैलिटी निखार आता है। इसके अलावा तनाव दूर करने के लिए जिम में वर्कआउट किया जा सकता है। तनाव कम करने के लिए आप योग का भी सहारा ले सकते हैं।

सिर्फ वजन घटाने से आपका श्वसन तंत्र प्रभावित हो सकता है, जबकि फिटनेस आपकी स्किन को भी हेल्दी बनाती है। साथ ही आपके दिल में स्मूद ब्लड और ऑक्सीजन सर्कुलेशन, स्वस्थ फेफड़े, कॉर्डियोवेस्कुलर सिस्टम में भी सुधार आता है। तो सिर्फ वजन मत घटाइये बल्कि अपनी फिटनेस पर भी पूरा ध्यान दीजिये।

अगर आपका कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिख सकते है।

धन्यवाद

Share

Be the first to comment on "WEIGHT LOSS vs FAT LOSS : क्‍या है बेहतर"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*