पपीते के बीज खाने के फायदे : Papaya Seeds Benefits in Hindi

papite ke beej

दोस्तों, पपीता बहुत ही गुणकारी फल माना जाता है। पपीते के सिर्फ फल में ही नहीं बल्कि इसके पत्तोंऔर बीजों में भी बहुत अधिक पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। इसलिए पपीते को बहुत ही पौष्टिक माना जाता है। पपीता भारत में आसानी से मिल जाता है और हर एक मौसम में पाया जाता है।

वैसे तो पपीता बहुत ही घातक बीमारियों के लिए फायदेमंद है। आपकी स्किन से लेकर कैंसर तक की बीमारिया ठीक करने में पपीता काफी ज्यादा कारगर माना जाता है. इसके और भी कई ज्यादा फायदे हैं। पपीते को कई तरह से आप खा भी सकते हैं। कुछ लोग तो पपीते का शेक पीना पसंद करते हैं और वहीं कुछ लोग पपीते की सब्जी भी बनाते हैं 

तो आज हम बात करेंगे पपीते के बीजों के बारे में. पपीते के बीज भी बहुत ज्यादा पौष्टिक माने जाते हैं। पपीते के काले काले बीज काली मिर्च जैसे दीखते है लेकिन उनमें बहुत ज्यादा पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। कुछ लोग पपीता खाने के बाद उन बीजों को कूड़ेदान में फेंक देते हैं ,लेकिन यह लेख पढ़ने के बाद आप ऐसा नहीं करेंगे और पपीते के बीजों को संभाल कर रखेंगे। 

पपीते के बीजों के फायदे : Health benefits of Papaya Seeds

पेट के लिए फायदेमंद

पपीते के बीज आपके पेट के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद माने जाते हैं। आजकल बाहर का जंक फूड इत्यादि खाने की वजह से कब्ज इत्यादि हो जाती है. तो कब्ज से राहत पाने के लिए आप पपीता खा सकते हैं। अगर फिर भी आराम ना मिले तो पपीते के बीजों को शहद में मिलाकर खाना काफी ज्यादा फायदेमंद माना जाता है।

रोजाना सुबह खाली पेट एक चम्मच पपीते के बीज पीस लें और उसमें थोड़ी सी शहद मिलाकर खाएं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो पेट और शरीर के दूसरे अंगों में मौजूद जहरीले पदार्थों को बाहर निकालते हैं और कब्ज से भी राहत दिलाते हैं। 

पेट के कीड़े मारता है 

पपीते के बीजों में प्रोटीनपॉलिटिक्स एंजाइम पाए जाते हैं जो कि आंत में परजीवी से छुटकारा पाने में आपको मदद करते हैं। यह एंजाइम शरीर के प्रोटीन को तोड़ने के साथ-साथ परजीवी और उनके अंडे को नष्ट करते हैं। 

बच्चों के पेट में परजीवी यानी कि कीड़े हो जाते हैं और उन कीड़ों की वजह से बच्चों के पेट में दर्द होने लगता है और खाया पिया लगता नहीं है तो बच्चों के पेट के कीड़े मारने के लिए आप उन्हें पपीते के बीज दे सकते हैं। 

पेट से परजीवी संक्रमण को साफ करने के लिए सुबह खाली पेट 1-2 दिनों तक एक से दो चमक पपीते के बीज के पाउडर में एक कप गर्म दूध या पानी में मिलाकर रोज सेवन करवाएं। 

सूजन कम करता है

पपीते के बीजों में anti-inflammatory प्रॉपर्टीज पाई जाती है कि शरीर को सूजन से छुटकारा दिलाने में मदद करती है। इसके साथ-साथ यह गठिया और जोड़ों के दर्द को भी दूर करने में काफी ज्यादा मदद करता है। 

पथरी से राहत

आजकल गुर्दे की पथरी भी बहुत से लोगों को हो रही है तो अगर आपको भी गुर्दे की पथरी इत्यादि की शिकायत है तो आप पपीते के बीजों का सेवन कर सकते हैं। पपीते के बीज आपके जिगर और गुर्दे से विषाक्त पदार्थ को दूर करने में मदद करते हैं। 

गुर्दे की पथरी बाहर निकालने के लिए पपीते के बीजों का एक चम्मच थोड़े से नींबू और शहद के साथ मिलाकर खाने से काफी ज्यादा राहत मिलती है। 

वजन कम करने में मदद करता है

squat

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तब  पपीते के बीजों का सेवन कर सकते हैं। पपीते के बीज और शहद का सेवन करने से वजन कम करने में भी आपको मदद मिलती है। इससे भोजन आसानी से पचता है और इसका सेवन करने से फैट जमा नहीं होती और वजन भी कम होने में मदद मिलती है। 

शुक्राणुओं की कमी दूर करता है

पुरुषों में अगर शुक्राणुओं की कमी हो जाए तो वह बाप बनने में असमर्थ हो जाते हैं. पपीते के बीजों में कई ऐसे मिनरल और कई ऐसे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जो कि शुक्राणु बढ़ाने में काफी ज्यादा मदद करते हैं. पपीते के बीजों का एक मिश्रण रोजाना खाने से आपकी प्रेग्नेंट क्षमता बढ़ती है। 

जोड़ों के दर्द से राहत 

अर्थराइटिस, जोड़ों में सूजन दर्द और लालिमा को दूर करने के लिए पपीते के बीज बहुत फायदेमंद होते हैं। पपीते के बीज में anti-inflammatory गुण पाए जाते हैं, बीमारियों से निजात दिलाने में आपको मदद करते हैं। 

मियादी बुखार दूर करता है 

अगर आपको बुखार हो जाए तब भी पपीते के बीज काफी ज्यादा फायदा कर सकते हैं। बुखार आने पर पपीते के बीजों का सेवन करना चाहिए। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल तत्व जीवाणुओं से हमारी रक्षा करते हैं और आपको स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। 

पपीते के बीज का कैसे सेवन करें: How to Eat Papaya seeds

आप पपीते के बीजों का कई तरह से सेवन कर सकते हैं पपीते खानेमें कड़वे है इसलिए इन्हे पीसकर इसमें शहद मिलाकर इसे ले सकते हैं। 

  • अगर आप सलाद खाने के शौकीन हैं तो पपीते के बीजों को पीसकर थोड़ी सी मात्रा आप सलाद में मिला सकते हैं। 
  • पपीते के बीज पीसकर उसे स्टोर करके रख लें और जब आप दही खाते हैं तो दही में भी थोड़ा सा मिलाकर खा सकते हैं। 
  • पपीते के बीजों के पाउडर का सेवन आप जूस में मिलाकर भी कर सकते हैं। 

पपीते का बीज कितना खाना चाहिए? 

पपीते के बीज काफी ज्यादा गुणकारी माने जाते हैं, लेकिन फिर भी अगर कुछ चीजें गुणकारी है तो ज़्यादा सेवन  नुकसानदेह हो सकता है। 

तो जब भी आप पपीते का बीज का सेवन करना शुरू करें तो आप पहले आधा चम्मच ही सेवन करें। बाद में इसकी मात्रा बढ़ा सकते हैं और हमेशा एक-दो दिन छोड़कर ही इस्तेमाल करें। लगातार इस्तेमाल ना करें। 

नोट! पपीता प्राकृतिक रूप से गर्भ निरोध का काम भी करता है। इसलिए यदि आप गर्भधारण करने की योजना बना रहे हैं या फिर गर्भ धारण किए हुए हैं तो पपीता या फिर पपीते के बीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। 

इसके अलावा गर्भवती महिलाओं और लेटेस्ट या फिर एलर्जी वाले लोगों को बीज खाने से साथ पपीते के फल का सेवन भी नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़े
कद्दू के बीज खाने के फायदे

सूरजमुखी बीज के फायदे

सच्ची सहेली टॉनिक के फायदे और नुकसान

गोंद कतीरा के फायदे और नुकसान


Share

Be the first to comment on "पपीते के बीज खाने के फायदे : Papaya Seeds Benefits in Hindi"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*