Press ESC to close

बवासीर के 5 घरेलु इलाज़ : Piles Treatment at Home

दोस्तों बवासीर (Piles) पाइल्स में बहुत तकलीफ झेलनी पड़ती है। जितनी इसमें तकलीफ झेलनी पड़ती है, उतने ही इसके इलाज भी है. तो घरेलू इलाज बताने  से पहले आपको ये बता दू  कि बवासीर कितने प्रकार की होती है तो सबसे पहले हम लोग जान लेते हैं कि बवासीर के प्रकार और इससे होने वाली तकलीफ के बारे में। 

बवासीर के प्रकार। Types of Piles

दोस्तों मुख्य प्रकार से बवासीर दो तरह की होती है अंदरूनी बवासीर और बाहरी बवासीर 

1 . अंदरूनी बवासीर में आपको मलद्वार के अंदर जख्म हो जाते हैं और मलद्वार से रक्त स्त्राव होने लगता है। एक दो  बार भी हो सकता है या फिर जब भी आप पखाना जाए तभी आपको ब्लीडिंग हो सकता है। 

2. बाहरी बवासीर में आपके मलद्वार के बाहर जो जगह है वह थोड़े मस्से हो जाते हैं और यह मस्से बढ़ते रहते हैं और यह तकलीफ देने लगते हैं। यहां तक कि आपको उठने बैठने में भी तकलीफ होने लगती है। इसमें आपको खून तो नहीं निकलता लेकिन मस्सों से तकलीफ होने लगती है या फिर इचिंग इत्यादि भी होती है। 

मुख्य तौर पर यह दो तरह की बवासीर ही देखने में मिलती है। लेकिन कई बार अलग-अलग लोगों में अलग-अलग तरह के तकलीफें देखी जाती  है। कुछ लोगों में मलद्वार में जलन होती है कुछ लोगों में सारा दिन इचिंग होती रहती है। कुछ लोगों में बैठने में तकलीफ होती है तो इस तरह से अलग अलग तरह की तकलीफें देखने को मिलती हैं। 

बवासीर ठीक करने के लिए आपको कई तरह के घरेलू उपचार देखने को मिलेंगे जिसमें आप आपको कोई दवाई इत्यादि इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं है। आप घर की चीजों से ही इसका इलाज कर सकते हैं। 

लेकिन इसके साथ-साथ आपको कुछ चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा जैसे कि। 

आपका खान-पान बिल्कुल सही होना चाहिए। घर का खानपान होना चाहिए जिसमें की लाल मिर्ची बिल्कुल न हो एक डेढ़ महीने के लिए लाल मिर्ची बिल्कुल बंद कर दें। 

  • सुबह खाली पेट चाय पीना बंद कर दें। 
  • दोपहर को छाछ या लस्सी पीना शुरू करें। 
  • अपने खाने में सलाद का सेवन जरूर करें और रोज सलाद में। 
  • अचार का सेवन बिलकुल बंद कर दें। 
  • अपने खाने में जितना हो सके कच्ची सब्जियां या फिर फाइबर युक्त खाना इस्तेमाल करें। 
  • सुबह का खाने में दही का सेवन जरूर करें। 
  • अगर चाय पीने का मन हो तो एक आद बार चाय पिए। 
  • पानी ज्यादा से ज्यादा पिए। 

बवासीर के घरेलू उपचार। Piles Treatment at Home

1.नींबू और दूध 

 यह बवासीर ठीक करने का सबसे आसान उपाय है। अगर आपको बवासीर अभी अभी शुरू हुई है तो आप इसे अपना इलाज कर सकते हैं। यह बाबा रामदेव द्वारा भी बताया जाता है। सुबह थोड़ा सा दूध ले ले और उसमें थोड़ा सा यानी के आधा चम्मच नींबू का रस मिला लें और इसे पिए ऐसा आप चार-पांच दिन या फिर एक हफ्ता जरूर करें। ऐसा करने से आपको बवासीर में आराम जरूर मिलेगा। 

2.मूली का पानी 

मूली का पानी पीना भी आयुर्वेद में सबसे ज्यादा कारगर माना जाता है। यह आपके पेट को सही रखता है। खाया पिया हजम करता है। अगर आपका पाचन क्रिया ठीक नहीं है तो उसे दुरुस्त करने में मूली का बहुत अहम रोल होता है। 

तो आप रोज आधा कप मूली का पानी पिए। ऐसा भी आप 10 से 15 दिन करें। आपको बहुत ज्यादा फायदा मिलेगा। 

मूली का पानी कैसे तैयार करें? 

आप एक ताजी मूली ले ले। इसे छिलके के साथ कद्दूकस करें। अगर आप कद्दूकस नहीं कर सकते तो मिक्सी में ग्राइंड कर ले। उसके बाद जो पानी निकलेगा। उसे आप पी ले. ऐसा 10 से 15 दिन करें। इससे भी आपको काफी आराम मिलेगा। 

3.नारियल का छिलका। 

नारियल के छिलके का उपाय सबसे ज्यादा बताया जाता है। आप पूजा वाले नारियल को ले ले, जिसके ऊपर भूसा युक्त छिलका होता है 

अब इसछिलके को गैस पर गरम कर लें, यानी कि जला ले. जलने के बाद यह एक राख के रूप में बदल जाएगा। अब इस राख को सुबह और रात को दही में मिलाकर खाएंऐसा चार-पांच दिन करें, इससे भी आपको आराम मिलेगा। 

अगर आप इसे दही के साथ नहीं खा सकते तो थोड़ी शहद के साथ भी खा सकते हैं। 

4.पान का पत्ता

पान का पत्ता काफी ज्यादा प्रचलित है। आप दो-चार पान के पत्ते ले आए। और उसे घर में पीस लें। 

पीसने के बाद किसी कपड़े से या फिर लंगोट इत्यादि से बवासीर वाली जख्म में बांध ले।  ऐसा तीन-चार दिन करें। ऐसा करने से भी आपके जख्म ठीक हो जाएंगे। 

5.बकायन

bakayan ke fayde

बकायन को महानींब भी कहा जाता है। यह नीम के परिवार का एक पेड़ है जिसके ऊपर छोटी-छोटी गुठलियों लगी होती हैं। अगर आपको महानीम का पेड़ मिल जाए तो अच्छा है नहीं तो आपको इसकी सूखी हुई गुठलिया  भी मिल जाएंगे।

आप इन सूखी हुई गुठलियों को ले आए और घर में पीस लें। बकायन की गुठलियों के चूर्ण को सुबह छाछ के साथ आधा चम्मच खाएं ऐसा 15 दिन करें। ऐसा करने से भी बवासीर में काफी आराम मिलता है। 

तो दोस्तों यह कुछ घरेलू उपचार थे क्योंकि बवासीर ठीक करने में काफी ज्यादा इस्तेमाल किए जाते हैं और बहुत से लोगों को इससे आराम भी मिलता है। अगर आपको भी बवासीर से की शिकायत है। अभी फर्स्ट में है तो आप इन चीजों में से किसी से भी किसी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इनमें से किसी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।