पतंजलि मेधा वटी के फायदे और नुकसान: Medha Vati

patanjali medha vati ke fayde

नमस्कार दोस्तों, आज हम पतंजलि दिव्य मेधा वटी (Patanjali Divya Medha Vati) के बारे में बात करेंगे। यह पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक औषधि है जो कि पतंजलि द्वारा बनाई जाती है। मार्केट में पतंजलि के और भी प्रोडक्ट मिल जाते हैं जिनके बारे में हमने आपको बताया है जैसे कि शिलाजीत, अश्वगंधा, आरोग्य वटी इत्यादि 

तो चलिए बात करते हैं पतंजलि मेधा वटी (Patanjali Divya Medha Vati) के क्या फायदे हैं और कैसे काम करती है। पतंजलि मेधा वटी का सेवन किसी भी उम्र में किया जा सकता है। यह आपके दिमाग और सिर के लिए बनाई गई है .जो लोग दिमागी काम ज्यादा करते हैं या फिर डिप्रेशन में रहते हैं या फिर जिनकी एकाग्रता भंग हो जाती है। उनके लिए यह बनाया गया है। 

इसके अलावा यह सिरदर्द, घबराहट और नींद संबंधी रोगों के उपचार के लिए भी फायदेमंद है। इसमें सभी आयुर्वेदिक चीजें डाली गई है जैसे कि  ब्राह्मी, शंखपुष्पी मालकांगनी, जटामांसी, अश्वगंधा इत्यादि। चलिए आगे बात करते हैं कि पतंजलि दिव्य मेधा वटी को कैसे इस्तेमाल किया जाए और इसके फायदों के बारे में। 

पतंजलि दिव्य मेधा वटी के मुख्य घटक। Patanjali Divya Medha Vati Ingredeints

  • ब्राह्मी – 54.7 mg
  • अश्वगंधा – 43.7 mg
  • शंखपुष्पी – 54.7 mg
  • वाचा  – 43.7 mg
  • उस्तुखुददूस – 43.7 mg
  • ज्योतिष्मती – 43.7 mg
  • जटामांसी – 11.25 mg
  • गोजिह्व – 17 mg      
  • सौंफ – 19.3 mg
  • जहर मोहरा – 19.3 mg
  • प्रवल पिष्टी – 17 mg
  • मुक्त पिष्टी – 11.25 mg

पतंजलि दिव्य मेधा वटी के फायदे : Patanjali Divya Medha Vati Benefits in Hindi

जैसा कि हमने बताया कि पतंजलि दिव्य मेधा वटी आपके दिमाग के लिए बनाई गई है या फिर दिमागी रोगियों के लिए यह बहुत ज्यादा फायदेमंद है तो इसके फायदे भी उनसे जुड़े हुए हैं। 

1.स्मरण शक्ति को बढ़ाता है। 

दिव्य मेधा वटी (Patanjali Divya Medha Vati) को एक ब्रेन टॉनिक के रूप में भी लिया जा सकता है। अगर आपकी स्मरण शक्ति कम है या फिर आपके बच्चे की स्मरण शक्ति कम है और बढ़ाना चाहते हैं तो आप दिव्य मेधा वटी इस्तेमाल कर सकते हैं। यदि आप ऑफिस में दिमागी काम ज्यादा करते हैं तो आप भी इसका सेवन कर सकते हैं। 

2.अनिद्रा की बीमारी को दूर करता है 

stressed women

कुछ लोगों को ज्यादा देर काम करने की आदत की वजह से उन्हें अनिद्रा की बीमारी हो जाती है जिसे हम अंग्रेजी में इनसोम्निया भी कहते हैं जिसके लिए वह एलोपैथिक दवाइयां लेने लगते हैं, जिनका आगे चलके काफी दुष्प्रभाव पड़ता है। अगर आप उनकी जगह पतंजलि दिव्य मेधा वटी का इस्तेमाल करेंगे तो आपकी अनिद्रा की बीमारी भी दूर हो सकती है। यह नींद को प्रेरित करती है। 

3.घबराहट को दूर करता है। 

पतंजलि दिव्य मेधा वटी उन लोगों के लिए फायदेमंद है जो कि घबराहट में रहते हैं। घबराहट की वजह से आपको दिल की बीमारियां भी होने लगती है या फिर बीपी भी असंतुलित हो जाता है। 

तो इससे छुटकारा पाने के लिए अब दिव्य मेधा वटी का इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे आपका मस्तिष्क शांत रहेगा और आपको घबराहट नहीं होगी। 

4.आवाज साफ करने में फायदेमंद

आप यह सोच रहे होंगे कि यह आवाज कैसे साफ करती है। दिव्य मेधा वटी में कुछ ऐसे तत्व भी डाले गए हैं जो कि आपके गले की गन्दगी मिटाकर उसे साफ करता है जिससे कि आपकी आवाज भी सुंदर हो जाती है। महिलाओं को इसका सेवन रात को सोते समय गुनगुने पानी के साथ करना चाहिए। 

5.बुजुर्गों के लिए फायदेमंद 

बुढ़ापे में अक्सर धीरे-धीरे आपकी याददाश्त कमजोर होने लगती है तो कुछ लोगों को समय से पहले बुढ़ापे में याददाश्त कमजोर हो  जाती है । कुछ लोगों की थोड़ी देर में होती है और कुछ की  देर बाद कमज़ोर होती है। 

6.मिर्गी में फायदेमंद 

मिर्गी भी एक बहुत घातक बीमारी है जो कि दिमाग से जुड़ी हुई है. तो मिर्गी के रोगियों को भी  ये दिया जा सकता है यह तंत्रिका तंत्र के कार्यों को विनियमित करके मिर्गी के दौरे को कंट्रोल में रखता है और दौरा नहीं पढ़ने देता। दिव्य मेधा वटी में एंटीऑक्सीडेंट क्रिया तंत्रिका तंत्र को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाती है। 

दिव्य मेधा वटी का कैसे सेवन करें? How to use Patanjali Divya Medha Vati

पतंजलि दिव्य मेधा वटी (Patanjali Divya Medha Vati) की कीमत 250 रुपए है पतंजलि दिव्य मेधा वटी पाउडर और गोलियों के रूप में उपलब्ध है। अगर आप गोलियों के रूप में लेना चाहते हैं तो दिन में 4 गोलियां लेने की सलाह दी जाती है। दो गोलियां सुबह और दो गोलियां रात को दूध के  साथ. 

पतंजलि दिव्य मेधा वटी के साइड इफेक्ट:
Patanjali Medha Vati Side Effects in Hindi

पतंजलि दिव्य मेधा वटी पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक दवाई है। फिर भी कुछ लोगों को इसका साइड इफेक्ट झेलने पड़ सकते हैं।

  • मेघा वटी का खुराक हमेशा विशेषज्ञ की सलाह के बाद ही शुरू करें। 
  • बच्चों को इसकी कम मात्रा  देनी चाहिए। दिन  में एक गोली ही दें। 
  • गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए, अगर जरूरत हो तभी इसका इस्तेमाल करें। 
  • अगर आपको इसके किसी घटक से एलर्जी है तो इसका सेवन है बंद कर देना चाहिए। 

पतंजलि दिव्य मेधा वटी की कीमत : Patanjali Divya Medha Vati Price

दिव्य मेधा वटी का एक पैक  जिसमें 120 गोलियां आती है की कीमत ₹210 रखी गई है। यह आप ऑनलाइन अमेजॉन से खरीद सकते हैं।

ये भी पढ़े


7 Comments on "पतंजलि मेधा वटी के फायदे और नुकसान: Medha Vati"

  1. Medha vati Acchi chij hai

  2. Mai epilepsy ki dwa kha rha hu
    Iske baad v sir me dard nind nhi aati h
    epilepsy ki dwa breviact le rha hu
    Kya iske baad v megha wati extra power le sakta hu
    Kripya sujhaw den

  3. Bhagmal Shakya | November 10, 2021 at 8:40 am | Reply

    Good Information

Leave a Reply to Deepak singh Singh Cancel reply

Your email address will not be published.


*