अर्जुन की छाल के फायदे और नुक्सान :Arjun Ki Chaal

arjun ki chhal

हमारे आयुर्वेद में कई तरह की जड़ी बूटियां इस्तेमाल की जाती है। कुछ के पत्ते इस्तेमाल किए जाते हैं तो कुछ की जड़े, लेकिन एक ऐसा पेड़ है जिसकी छाल का बहुत ज्यादा महत्व है, वह है अर्जुन की छाल 

दोस्तों आज हम अर्जुन की छाल के बारे में बात करेंगे। अर्जुन की छाल के बारे में बहुत मिथ है। कुछ लोग बोलते हैं कि महाभारत के अर्जुन की वजह से ही इस पेड़ का नाम अर्जुन पड़ा है, लेकिन ऐसा नहीं है। अर्जुन का मतलब है गोरा या  सफेद और अर्जुन की छाल भी सफेद रंग की होती है। इसीलिए इसका नाम अर्जुन की  पड़ा है। 

अर्जुन की छाल क्या होती है : What is Arjun Chaal

अर्जुन का पेड़ तकरीबन 60 से 80 फुट लंबा होता है और इसका तना 20 फीट तक लंबा हो सकता है। इसके तने में जो छाल होती है वह अंदर से चिकनी होती है, उसे इस्तेमाल किया जाता है। उसके काफी ज्यादा फायदे भी मिलते हैं जैसे कि गंभीर हृदय संबंधी बीमारियों के लिए ,टीबी के लिए, इसके साथ-साथ कान दर्द, सूजन बुखार के उपचार के लिए भी इसका सेवन किया जाता है। अर्जुन को वैज्ञानिक भाषा में टर्मिनलिया अर्जुन (Terminalia Arjuna) है। 

आयुर्वेद में काफी समय से अर्जुन का काढा और चाय का सेवन किया जा रहा है। आपको बाजार में यह पाउडर और छाल  के रूप में मिल जाएगा। 

अर्जुन का पेड़ एक सदाबहार पेड़ है। इसीलिए इसका बहुत ज्यादा महत्व है। तो चलिए आज इस लेख में हम लोग बात करते हैं अर्जुन के पेड़ के फायदों के बारे में और इसके नुकसान के बारे में। 

अर्जुन की छाल के फायदे : Arjun Chaal Benefits in Hindi

1.हृदय संबंधी रोगों में फ़ायदेमंद 

health heart

अगर आपको कोई हृदय संबंधी रोग है तो उसमें अर्जुन की छाल काफी ज्यादा फ़ायदेमंद साबित हो सकती है। कई शोधों में माना गया है कि अर्जुन की छाल में  ट्राइटरपेनॉइडनाम का एक तत्व पाया जाता है जो कि आपके हृदय के लिए काफी ज्यादा फ़ायदेमंद है। यह हृदय की गति को ठीक करता है। अगर आपको हाई बीपी की समस्या है तो उसे भी ठीक करता  हैं  

2.कान दर्द में फ़ायदेमंद

छोटे बच्चों को कान दर्द की समस्या आम हो जाती है। कान दर्द की समस्या बैक्टीरियल इंफेक्शन की वजह से होती है तो अर्जुन की छाल में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कि बैक्टीरिया को मारते हैं और आपको कान दर्द से निजात दिलाते हैं। इसमें एंटीमाइक्रोबियल्स गुण भी पाए जाते हैं जो कि कान दर्द में काफी ज्यादा सहायक होते हैं। 

3.खून साफ करती है

अर्जुन की छाल का स्वाद कसैला होता है। इसका प्रभाव इसके स्वाद जैसा ही होता है। यह खून को डिटॉक्सिफाई करने का काम करती है। अगर आपका खून साफ नहीं है तो खून को डिटॉक्स करने के लिए आप अर्जुन की छाल का काढ़ा पी सकते हैं या फिर की चाय भी पी सकते हैं। यह खून को पतला कर के हार्ट रेट को सही करने का काम करता है। 

अर्जुन छाल खरीदने के लिए दबाये 

4.कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है

अर्जुन की छाल की चाय के सेवन से कोलेस्ट्रॉल लेवल ठीक किया जा सकता है। आजकल बाहरी खानपान की वजह से कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है जिसकी वजह से गंभीर बीमारियां होने लगती है ,तोअर्जुन की छाल का सेवन करने से आपका कोलेस्ट्रॉल कम होता है और धमनियों में ब्लॉकेज होने से बचाव रहता है। 

5.सर्दी खांसी से राहत 

सर्दियों में सर्दी खांसी होना आम बात है. सर्दी खांसी, जुकाम इत्यादि से राहत पाने के लिए अर्जुन की छाल का सेवन किया जा सकता है। इसके लिए कई शोध किए गए हैं तो इन शोधों में पाया गया है कि अगर आपको सर्दी खांसी हो जाए तो आप अर्जुन की छाल का काढ़ा पी सकते हैं। 

6.बुखार में फायदेमंद 

जैसा कि हमने आपको पहले बताया कि कई तरह से यह फायदेमंद है. अगर आपको सामान्य बुखार है तो बुखार को दूर करने के लिए भी इसका सेवन किया जा सकता है और कुछ गंभीर बीमारियों के लिए जैसे कि डेंगू बुखार हो जाए तो उसमें भी यह मददगार साबित होती है। 

7.त्वचा के लिए फ़ायदेमंद

young cute girl

अर्जुन की छाल त्वचा के लिए भी काफी ज्यादा फ़ायदेमंद मानी जाती है। अर्जुन की छाल से जुड़े एक शोध में पाया गया है कि यह खुजली , चुभन, चकत्तों के साथ एग्जिमा जैसी गंभीर बीमारियों को दूर करने में काफी ज्यादा प्रभावी साबित होती है। 

अर्जुन की छाल का सेवन कैसे करें: How to Use Arjun ki Chaal

अर्जुन की छाल आपको बाजार में आसानी से मिल जाएगी। यह आपको चूर्ण और छाल के रूप में मिल जाती है तो अगर आपको यह चूर्ण के रूप में मिलती है तो आप इसे चाय में मिलाकर पी सकते हैं और अगर आपको छाल के रूप में मिलती है तो आप काढ़ा पी सकते हैं। 

अर्जुन छाल खरीदने के लिए दबाये 

अर्जुन की छाल के नुकसान : Arjun ki Chhal Side Effects

कई बार आयुर्वेदिक चीजें सभी को सूट नहीं करती तो इ इसलिए आपको कुछ सावधानियां भी बरतनी पड़ तो हो सकता है .अगर आपको भी अर्जुन की छाल सूट ना करें तो नीचे दिए गए लक्षण दिखाई दे सकते हैं। 

  • अर्जुन की छाल से पेट में हल्की सी सूजन और दर्द का अनुभव होता है। 
  • इससे सिर दर्द और बदन दर्द की समस्या भी हो सकती है। 
  • अगर यह सूट ना करें तो हल्की कमजोरी के साथ उल्टी मछली की समस्या भी हो सकती है
  • गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन करने से बचना चाहिए। 
  • स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को अर्जुन की छाल लेने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

यह भी पढ़े :

Share

Be the first to comment on "अर्जुन की छाल के फायदे और नुक्सान :Arjun Ki Chaal"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*