बबूल गोंद के फायदे और नुकसान|Babul Gond (Acacia) Benefits in Hindi

babul ka gond

पेड़ों की गोंद को कई सदियों से भारतीय आयुर्वेद और यूनानी नुस्खों में इस्तेमाल किया जा रहा है। चाहे बबूल की गोंद हो या कीकर की । दोनों तरह की गोंद को बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। आज हम बबूल की गोंद (Babul ki Gond) के फायदो  के बारे में बात करेंगे। 

बबूल की गोंद क्या है : Babul ka Gond in Hindi

बबूल का पेड़ रेतीले स्थानों में पाया जाता है। इसकी पत्तियां, लकड़ी इत्यादि सभी को आयुर्वेद में बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। यहां तक कि इसकी गोद को भी कई तरह के फ़ायदों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अंग्रेजी में इसे अकेसिया (Acacia) कहा जाता है जिसका अरबी भाषा में अर्थ है गोंद, इसीलिए बबूल की गोंद का ज्यादा सेवन किया जाता है

बबूल की गोंद का सेवन करने से यौन स्वास्थ्य ,मधुमेह, कैंसर, वजन कम करने या वजन बढ़ाना, तनाव ऐसी समस्या दूर करने के लिए भी किया जा सकता है। 

आजकल गोंद के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी दी जा रही है और मार्केट में कई तरह के नकली गोंद भी बेचीं जा रही है। इसलिए जब भी आप गों खरीदें तो आपको पता होना चाहिए कोनसा असली है और कोनसा नकली 

बबूल के गोंद के पौष्टिक तत्व। Babul Gond Nutrients in Hindi

बबूल के गोंद में कई तरह के पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जिसके कारण इसे कई तरह की दवाइयों में भी इस्तेमाल किया जाता है और हमारे आयुर्वेद में भी इस्तेमाल किया जाता है। इसके पोषक तत्व की बात करें तो इसमें गैलेक्टोज ग्लुको क्रोनिक एसिड , ग्लाइकोप्रोटीन इत्यादि शामिल है।

इसमें कई तरह के एंटी ऑक्सीडेंट और मिनरल्स भी मिल जाते हैं। इस लेख में आप लोग जानेंगे कि बबूल की गोंद खाने के क्या-क्या फायदे आपको मिल सकते हैं? 

बबूल की गोंद के फायदे। Babul Gond Benefits in Hindi

1.वजन घटाने में फ़ायदेमंद

बबूल के गोंद आपका वजन मेंटेन रखने में बहुत ज्यादा फ़ायदेमंद मानी जाती है। अगर आपका वजन ज्यादा है और वजन कम करना चाहते हैं या फिर वजन मेंटेन करना चाहते हैं तो आपको बबूल की गोंद का सेवन जरूर करना चाहिए। यह अधिक वसा को कम करने में मदद करती है।

weight loss

एक अध्ययन के मुताबिक वो महिलाएं जिन्होंने बबूल की गोंद 6 हफ्ते तक सेवन की थी, उनकी बॉडी में वसा कम पाई गई। माना जाता है कि बबूल का गोंद में कई तरह की डाइटरी फाइबर भी पाई जाती है जो कि वजन घटाने में मदद करती है। 

2.बदन दर्द से आराम 

अगर आपका पूरा शरीर दर्द कर रहा है। तो बदन दर्द से राहत पाने के लिए बबूल की छाल और गोंद  को बराबर मात्रा में मिलाकर पीस लें। दिन में तीन बार एक-एक चम्मच सेवन करने से बदन दर्द से राहत मिलती है। 

3.महिलाओं के लिए स्वास्थयवर्धक 

जो महिलाए बाँझप की शिकार है उन महिलाओं के लिए बबूल की गोंद खाना काफी ज्यादा फायदेमंद रहता है। बच्चा ठहरने में मदद करती है और महिलाओं को कई तरह के शारीरिक स्वास्थ्य प्रदान करती है। 

4.मधुमेह के लिए फ़ायदेमंद 

आजकल बहुत लोग मधुमेह से पीड़ित हैं। जिन मधुमेह रोगियों को हर समय भूख लगती रहती है तो उनकी भूख संतुष्ट नहीं हो पाती तो उनकी समस्या को समाधान करने के लिए गोंद सेवन करना चाहिए। इसमें फाइबर ज्यादा पाया जाता है जो कि खाने की आदत को नियंत्रित रखता है और आपका पेट भी भरा रखता है। यह आपके शरीर में रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद करता है। 

5.पुरुषों के लिए फ़ायदेमंद

बबूल की गोंद महिलाओं के साथ-साथ यह पुरुषों के यौन स्वास्थ्य के लिए भी फ़ायदेमंद मानी जाती है। पुरुषो  के  स्वास्थ्य को बढ़ाने के लिए इसे 5-10 ग्राम दिन में लेना चाहिए यह पुरुषों का वीर्य बढ़ाने और बांझपन  को दूर करने में बहुत ज्यादा मदद करती है। 

6.डायरिया में फायदेमंद 

बबूल का इस्तेमाल डायरिया को ठीक करने के लिए भी किया जा सकता है। इसे आपको ओ -आर- एस में मिलाकर भी पी सकते हैं। डायरिया में बार बार टॉयलेट जाने के बाद बहुत कमजोरी आ जाती है तो उस कमजोरी को ठीक करने के लिए बबूल की गोंद का सेवन किया जा सकता है। इ

बबूल की गोंद खरीदे 

7.त्वचा के लिए फायदेमंद 

माना जाता है कि बबूल की गोंद त्वचा के लिए भी बहुत ज्यादा फ़ायदेमंद रहती है। चेहरे पर कसावट लाता है झुर्रिया दूर करता है और एंटी एजिंग माना जाता है। इससे संबंधित कोई वैज्ञानिक प्रमाण तो नहीं है फिर भी कुछ कॉस्मेटिक्स इंडस्ट्री ने यह दावा किया है कि बबूल की गोंद आपकी स्किन के लिए फ़ायदेमंद रहती है। 

8.कमर दर्द में राहत

जिन महिलाओं को कमर दर्द की शिकायत है उनके लिए भी बबूल की गोंद काफी ज्यादा फायदेमंद रहती है। बबूल की छाल ,फली और गोद को बराबर मात्रा में पीस लें। एक चम्मच मात्रा को दिन में तीन बार सेवन करने से कमर दर्द से काफी ज्यादा राहत मिलती है। इसके अलावा अगर आप बबूल की गोंद पीस कर  लड्डू बनाकर भी खा सकते  हैं। तब भी आपको कमर दर्द से राहत मिल सकती है। 

9.तनाव को दूर करता है 

बबूल की गोद में कई तरह के एंटी- ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कि ऑक्सीडेटिव तनाव को दूर करने के फायदा देते हैं। अगर आप सारा दिन काम करते हैं, स्ट्रेस  में रहते हैं तो तनाव को दूर करने के लिए भी बबूल की गोंद काफी ज्यादा फायदा देती है। 

10.रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। 

आपके शरीर को स्वस्थ रखने के लिए, विभिन्न प्रकार के संक्रमण से बचाने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होनी चाहिए। तो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आप बबूल की गोंद का सेवन भी कर सकते हैं। यह खांसी जुकाम इत्यादि को नजदीक नहीं आने देता। 

बबूल की गोंद खाने के नुकसान। Babool Gond Side Effects

बबूल की गोंद खाने के जहां  फायदे हैं वहीं इसकी ज्यादा मात्रा खाने के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। जैसे कि  

  • मुंह का स्वाद खराब हो जाना 
  • मतली आना 
  • दस्त लग जाना   
  • शरीर में सूजन
  • एलर्जी 
बबूल की गोंद खरीदे 

बबूल की गोंद का सेवन कैसे करें: How to Use Babool Gond

बबूल की गोंद का सेवन आप कई प्रकार से कर सकते हैं जैसे के। 

  • बबूल की गोंद को पानी में डालकर सेवन किया जा सकता है। 
  • इसे आप दही में मिलाकर भी खा सकते हैं। 
  • सूप या डेजर्ट में मिक्स करके भी लिया जा सकता है। 
  • बबूल की गोंद को भूलकर भी खाया जा सकता है। 
  • बबूल की गोंद को आटे के लड्डू में मिक्स करके भी लिया जा सकता है। 
  • ग्रेवी बनाने में भी इसका उपयोग किया जा सकता है।

यह भी पढ़े :

Share

Be the first to comment on "बबूल गोंद के फायदे और नुकसान|Babul Gond (Acacia) Benefits in Hindi"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*