पतंजलि संजीवनी वटी के फायदे : Patanjali Sanjivani Vati in Hindi

divya sanjeevani vati

दोस्तों आज हम पतंजलि संजीवनी वटी (Patanjali Sanjeevani Vati) के बारे में बात करेंगे। पतंजलि ने हमें कई तरह की दवाइयां प्रदान की हैं जिनमें से एक है पतंजलि संजीवनी वटी। संजीवनी शब्द रामायण से लिया गया है। और  इसके नाम से ही पता चलता है कि यह एक नहीं बल्कि कई रोगों  से छुटकारा दिलाती है। तो चलिए जानते हैं संजीवनी वटी के बारे में। 

दिव्य संजीवनी वटी क्या है : Patanjali Sanjivani Vati in Hindi

पतंजलि संजीवनी वटी (Patanjali Sanjeevani Vati) एक आयुर्वेदिक औषधि है जो कि बुखार, डेंगू इत्यादि से छुटकारा पाने के लिए बनाई गई है। इसके अलावा संजीवनी वटी शरीर से कीटाणु इत्यादि को भी बाहर निकालती है। 

पतंजलि का कहना है कि संजीवनी वटी सांप के काटने पर विश को खत्म करने में भी प्रयोग में लाई जा सकती है। अगर आपको कोई पेट का विकार है, उसमें भी यह फायदा देती है। 

पतंजली संजीवनी वटी के घटक : Patanjali Sanjeevani Vati Composition in Hindi

घटक हिस्सा अनुपात
1.विडंग (Embelia ribes Burm.)फल1 भाग
2.नागर (शुण्ठी) (Zingiber officinale Rosc.)कन्द1 भाग
3.कृष्णा (पिप्पली) (Pipper longum Linn.)फल1 भाग
4.पथ्या (हरीतकी) (Terminalia chebula Retz.)फली1 भाग
5.आमला (Emblica officinalis Gaertn.)फला1 भाग
6.बिभीतक (Terminalia bellirica Roxb.)फला1 भाग
7.वच (Acorus caloamus Linn.)कन्द1 भाग
8.गुडुची (Tinospora cordifolia (willd)तना1 भाग
9.भल्लातक शुद्ध (Semecarpus anacardium Linn.)फल1 भाग
10.विष(वत्सनाभ)(Aconitum ferrox wallex Seringe.)मूलकन्द1 भाग
11.गोमूत्र Q.S मर्दनार्थ 

पतंजली संजीवनी वटी के लाभ : Patanjali Sanjivani Vati Benefits in Hindi

संजीवनी वटी एक पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक औषधि है और इसके कई फायदे देखने को मिलते हैं 

1. बुखार उतारने में फायदा। 

संजीवनी वटी का इस्तेमाल बुखार को ठीक करने में भी किया जा सकता है। अगर आप मौसमी बुखार की चपेट में जल्दी आ जाते हैं तो संजीवनी वटी का प्रयोग कर सकते हैं। यह मौसमी बुखार को दूर करता है। इसके अलावा अगर आपको हल्का-हल्का टाइफाइड लगे तो इसकी एक एक गोली हलके गर्म पानी  के साथ ले सकते है  

fever girl

2. पाचन तंत्र दुरुस्त करता है

अत्यधिक खाना खाने से ,बाहर का तला भुना खाने से या फिर ज्यादा देर भूखा रहने से पेट में कई तरह के विकार आ जाते हैं और हमारा पाचन तंत्र खराब हो जाता है तो अगर आपके पेट में भी कोई तकलीफ है। पेट दर्द है, पेट में भारीपन है या फिर पाचन तंत्र सही नहीं है तो आप संजीवनी वटी का प्रयोग कर सकते हैं। यह आपके पाचन तंत्र को सही करने में मदद करता है। 

3. उल्टी इत्यादि में फायदेमंद 

संजीवनी वटी आम दोष को ख़त्म करके उल्टी व दस्त को भी बंद करती है।अगर आप को बुखार के साथ-साथ उल्टी की शिकायत भी है ,तो उसमे  भी यह फायदेमंद है  

4. खांसी और जुकाम में फायदेमंद

अगर आपको खांसी और जुकाम है उससे भी राहत पाने के लिए आप संजीवनी वटी की एक एक गोली सुबह और शाम सेवन कर सकते हैं। 

5. सांप के काटने से संजीवनी वटी का फायदा 

पतंजलि का कहना है कि आप सांप के काटने पर भी संजीवनी वटी का प्रयोग कर सकते हैं। यह सांप के विष को खत्म करने में मदद करती है। 

दिव्या संजीवनी वटी कैसे प्रयोग करें : Patanjali Sanjeevani Vati Dosage

आप संजीवनी वटी की एक गोली सुबह और एक गोली शाम को हल्के गर्म पानी के साथ ले सकते हैं। 

दिव्या संजीवनी वटी की कीमत : Patanjali Sanjeevani Vati Price

पतंजलि संजीवनी वटी की 80 गोलियों की डिब्बी 40 रुपये में उपलब्ध करवाई जाती है। 

संजीवनी वटी के साइड इफेक्ट: Patanjali Sanjivani Vati Side Effects

  • पतंजलि संजीवनी वटी पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक औषधि है। फिर भी इसे लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए। 
  • इसे बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। 
  • यदि आप गर्भावस्था से हैं या फिर बच्चों को दूध पिलाती है तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य  ले ले।

यह भी पढ़े

Share

Be the first to comment on "पतंजलि संजीवनी वटी के फायदे : Patanjali Sanjivani Vati in Hindi"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*