Himalaya Ashwagandha : फायदे , नुक्सान और उपयोग

Himalaya Ashwagandha

आपने अश्वगंधा (Withania Somnifera) का नाम सुना होगा। अश्वगंधा के कई प्रचार भी देखे होंगे। आखिर अश्वगंधा क्या चीज है और इतनी ज्यादा पॉपुलर क्यों हो गई? तो आज हम बात करेंगे अश्वगंधा के बारे में.

अश्वगंधा को भारतीय जिनसेंग (Iindian Ginseng) भी कहा जाता है लगभग 2500 से ज़्यादा सालों से इसे भारतीय आयुर्वेद में इस्तेमाल किया जा रहा है और इसके एक नहीं अनेक फायदे हैं। 

अश्वगंधा को मोटापा घटाने, बल और वीर्य विकार को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके इलावा और भी बहुत अधिक फायदे हैं जो हम बाद में जानेंगे। अश्वगंधा को आप किसी भी तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं। बाजार में अश्वगंधा टेबलेट और चूर्ण के रूप में उपलब्ध है

लगभग सभी आयुर्वेदिक ब्रांड की अश्वगंधा मार्केट में उपलब्ध है। आप किसी की भी इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन सबसे अधिक पतंजलि और हिमालया की इस्तेमाल की जाती है। हिमालय की अश्वगंधा इस्तेमाल करने का फायदा यह है कि वह  टेबलेट फॉर्म में है जो कि इस्तेमाल करना बहुत आसान है। 

अश्वगंधा का नाम इसलिए पड़ा क्योंकि अगर अश्वगंधा के पौधे को मसल कर उसकी सुगंध लेंगे तो उसकी सुगंध आपको घोड़े के मूत्र जैसी आएगी। घोड़े को भी संस्कृत में अश्व कहा जाता है और अश्वगंधा के पौधे की  गंध भी घोड़े के पेशाब जैसी ही होती है । जड़ की सुगंध तो बहुत तेज होती है और बिल्कुल घोड़े के पेशाब जैसी ही रहती है। लेकिन इसके फायदे बहुत ज्यादा है इसलिए बात करते हैं इसके फायदों के बारे में। 

हिमालया अश्वगंधा के फायदे।Himalaya Ashwagandha Benefits in Hindi

तनाव को कम करने में मदद करता है। 

अश्वगंधा का अधिक फायदा है यह है कि यह तनाव को कम करने में बहुत अधिक फायदा देता है। तनाव बढ़ने से हमारी बॉडी में कॉर्टिसोल लेवल बढ़ जाता है। लेकिन जब आप अश्वगंधा खाते हैं तो आपका आपकी बॉडी में कॉर्टिसोल  लेवल कम हो  जाता है और तनाव भी  कम हो जाता है। इसीलिए अश्वगंधा को anti-stress मेडिसिन भी कहा जाता है क्योंकि इसमें बहुत अधिक anti-stress गुण पाए जाते हैं तो अगर आप भी स्ट्रेस से जूझ रहे हैं या काम के बोझ केस्ट्रेस  से में हैं, तो आपको अश्वगंधा कंज्यूम करनी चाहिए। 

 शिलजीत के फायदे, नुक्सान और उपयोग 

योन शक्ति बढ़ाता है। 

अगर आप  यौन शक्ति या सेक्स इच्छा की कमी से जूझ रहे हैं या शीघ्रपतन की समस्या से भी जूझ रहे हैं तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं। अश्वगंधा आपके यह काम भी कर सकता है। इसमें एक ऐसी शक्ति वर्धक औषधी मौजूद है जो पुरुषों में यौन क्षमता को दुरुस्त करने में बहुत मददगार होती है। अश्वगंधा का सेवन करने से वीर्य की गुणवत्ता में सुधार और संख्या में भी वृद्धि होती है। इसके अलावा अगर आप की योन शक्ति भी कम है तो यौन शक्ति भी बढ़ाता है। 

टेस्टोस्टेरोन बढ़ाता है 

जैसा कि आपको पता है टेस्टोस्टेरोन मर्दों का मेन मेल हार्मोन है जिसके ऊपर सभी चीजें निर्भर करती हैं जैसे कि मर्दों की आवाज, उनके बाल और यौन शक्ति  . तो अश्वगंधा में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो कि आपका स्ट्रेस  लेवल कम करता है और टेस्टोस्टेरोन लेवल को बढ़ाता है तो अगर आपका  टेस्टोस्टरॉन लेवल कम है तो आप अश्वगंधा खाना शुरू करें।

केलोस्ट्रोल सही करता है 

अगर आपका केलोस्ट्रोल लेवल इंबैलेंस है तो आपको कई तरह की बीमारियां घेर सकती हैं। हमारी बॉडी में दो तरह का केलोस्ट्रोल  होता है। एक गुड कोलेस्ट्रॉल और एक बेड केलोस्ट्रोल।  बेड केलोस्ट्रोल बढ़ जाए तो आपको दिल की घातक बीमारियां हो सकती हैं। यहां तक की हार्टअटैक भी हो सकता है। इसलिए अश्वगंधा कंज्यूम करने से आपका लेवल बैलेंस होता है और आपका दिल भी स्वस्थ रहता है। 

इम्युनिटी बढ़ाता है

अगर आपको खांसी जुकाम जल्दी  हो जाता है तो आपकी  इम्युनिटी स्ट्रांग नहीं है.इम्युनिटी बढ़ाने के लिए अश्वगंधा बहुत अच्छा विकल्प है।  अश्वगंधा खाने से आपकी इम्युनिटी  यानी की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। 

डायबिटीज को कम करता है

आजकल लोग डायबिटीज से धीरे-धीरे ग्रसित हो रहे हैं। यह एक ऐसी बीमारी है जिसका इलाज आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से ही संभव है. अश्वगंधा के  सेवन से आप  डायबिटीज को भी कंट्रोल कर सकते हैं.

कैंसर रोधी गुण। 

अश्वगंधा का इस्तेमाल कई घातक बीमारियों के लिए किया जाता है जिनमें से एक है कैंसर यह कैंसर को खत्म तो नहीं करता, लेकिन भविष्य में आपको कैंसर ना हो। इसके लिए कैंसर के सेल बनने से रोकता है। अगर आप अश्वगंधा खाएंगे तो आपको कैंसर जैसी  बीमारियां भविष्य में नहीं होगी। अश्वगंधा का सेवन करने से इस घातक बीमारी से बचा जा सकता है। इसमें मौजूद एंटी ट्यूमर गुण वैकल्पिक उपचार के लिए काफी अच्छा माना जाता है। 

बॉडी बिल्डिंग में फायदेमंद 

अगर आप बॉडीबिल्डिंग कर रहे हैं, जिम जा रहे हैं और आपका वजन कम है तो वजन बढ़ाने के लिए भी आप अश्वगंधा का सेवन कर सकते हैं। चाहे इसमें कोई प्रोटीन या फिर कार्ब्स  इत्यादि नहीं होते, फिर भी यह आपको काफी अच्छा फायदा दे सकती है.

हिमालया अश्वगंधा का उपयोग कैसे करें : Himalaya Ashwagandha Dose

हिमालया अश्वगंधा की एक या फिर दो टेबलेट रात को सोने से पहले दूध के साथ लेनी चाहिए। 

हिमालया अश्वगंधा लेने के साइड इफेक्ट : Ashwagandha Side Effects

वैसे तो हिमालया अश्वगंधा के कोई साइड इफेक्ट नहीं है यह हंड्रेड परसेंट! आयुर्वेदिक है। लेकिन अगर आवश्यकता से ज्यादा ली जाए तो आपको कोई नुकसान झेलने पड़ सकते हैं। 

अगर आप प्रेग्नेंट है? या फिर कोई ट्रीटमेंट करवा रहे हैं तो अपने चिकित्सक के परामर्श से ही अश्वगंधा का इस्तेमाल करें। 

इश्क औषधि का सही मात्रा में इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है। इसलिए आवश्यकता से अधिक इसका इस्तेमाल ना करें। 

हिमालया अश्वगंधा की कीमत : Himalaya Ashwagandha Price 

हिमालय अश्वगंधा टेबलेट मूल्य ₹128 और पैक साइज 7 टेबलेट का है।

यह भी पढ़े :

Share

2 Comments on "Himalaya Ashwagandha : फायदे , नुक्सान और उपयोग"

  1. भुवन दीक्षित | December 2, 2020 at 1:25 pm | Reply

    बहुत उम्दा

Leave a comment

Your email address will not be published.


*